Category: व्रत कथाएँ

Brihaspati Mantra | Guru Beej Mantra | बृहस्पति मंत्र के अर्थ एवं लाभ

Brihaspati Mantra (गुरु अष्टोत्तरशतनामावलिः)💚 💗 💚 Guru Beej Mantra गुरु बीज मन्त्र – ॐ ग्राँ ग्रीं ग्रौं सः गुरवे नमः ||ॐ गुणाकराय नमः ||ॐ गोप्त्रे नमः ||ॐ गोचराय नमः ||ॐ गोपतिप्रियाय नमः ||ॐ गुणिने नमः ||ॐ गुणवतां श्रेष्थाय नमः ||ॐ गुरूणां गुरवे नमः ||ॐ अव्ययाय नमः ||ॐ जेत्रे नमः ||ॐ जयन्ताय नमः ||ॐ जयदाय नमः

Budh Mantra | Budh Beej Mantra | बुध मंत्र

बुध अष्टोत्तरशतनामवलिः🍊 🍊 🍊 ☀☀☀☀☀||बुध अष्टोत्तरशतनामवलिः ||☀☀☀☀☀बुध बीज मन्त्र – ॐ ब्राँ ब्रीं ब्रौं सः बुधाय नमः ||ॐ बुधाय नमः ||ॐ बुधार्चिताय नमः ||ॐ सौम्याय नमः ||ॐ सौम्यचित्ताय नमः ||ॐ शुभप्रदाय नमः ||ॐ दृढव्रताय नमः ||ॐ दृढफलाय नमः ||ॐ श्रुतिजालप्रबोधकाय नमः ||ॐ सत्यवासाय नमः ||ॐ सत्यवचसे नमः ||१०ॐ श्रेयसां पतये नमः ||ॐ अव्ययाय नमः ||ॐ

Chandra Mantra | चन्द्र देव को प्रसन्न करने वाले मंत्र

चन्द्र अष्टोत्तरशतनामावलिः💚 💗 💚 ☀☀☀☀☀|चन्द्र अष्टोत्तरशतनामावलिः |☀☀☀☀☀ Chandra Beej Mantra चन्द्र बीज मन्त्र –ॐ श्राँ श्रीं श्रौं सः चन्द्राय नमः || ॐ श्रीमते नमः ||ॐ शशधराय नमः ||ॐ चन्द्राय नमः ||ॐ ताराधीशाय नमः ||ॐ निशाकराय नमः ||ॐ सुखनिधये नमः ||ॐ सदाराध्याय नमः ||ॐ सत्पतये नमः ||ॐ साधुपूजिताय नमः ||ॐ जितेन्द्रियाय नमः ||ॐ जयोद्योगाय नमः ||ॐ

Navgrah Mantra | नवग्रह शांति मंत्र के जाप , विधि ( अर्थ सहित )

नवग्रह पीड़ाहर स्तोत्र💚 💗 💚 हर ग्रह की शांति करता है :☀☀☀☀☀ नवग्रह पीड़ाहर स्तोत्र (अर्थ सहित)☀☀☀☀☀ ग्रहों से होने वाली पीड़ा का निवारण करने के लिए इस स्तोत्र का पाठ अत्यंत लाभदायक है। इसमें सूर्य से लेकर हर ग्रहों से क्रमश: एक-एक श्लोक के द्वारा पीड़ा दूर करने की प्रार्थना की गई है- ग्रहाणामादिरात्यो

Surya Mantra | Surya Namaskar Mantra Hindi | सू्र्य मंत्र

श्री अङ्गारकाष्टोत्तर शतनामावलि💚 💗 💚 ☀☀☀☀☀॥ श्री अङ्गारकाष्टोत्तर शतनामावलि ॥☀☀☀☀☀ ॐ महीसुताय नमः ॥ॐ महाभागाय नमः ॥ॐ मङ्गळाय नमः ॥ॐ मङ्गलप्रदाय नमः ॥ॐ महावीराय नमः ॥ॐ महाशूराय नमः ॥ॐ महाबलपराक्रमाय नमः ॥ॐ महारौद्राय नमः ॥ॐ महाभद्राय नमः ॥ॐ माननीयाय नमः || १०||ॐ दयाकराय नमः ॥ॐ मानदाय नमः ॥ॐ अमर्षणाय नमः ॥ॐ क्रूराय नमः ॥ॐ तापपापविवर्जिताय

Hare Krishna Mantra | Krishna Aarti | श्री कृष्ण भगवान के सभी संपूर्ण मंत्र अर्थ सहित

Hare Krishna Mantra (श्री राधाकृष्ण वंदना)💚 💗 💚 त्वं माता कृष्ण प्राणाधिका देवीकृष्ण प्रेममयी शक्ति शुभेपुजितासी मया सा च या श्री कृष्णेन पूजिताकृष्ण भक्ति प्रदे राधे नमस्ते मंगल प्रदे हे माँ राधा, आप श्री कृष्ण के प्राण ( अधिष्ठात्री देवी ) हैं तथा आप ही श्री कृष्ण की प्रेममयी शक्ति तथा शोभा हैं. श्री कृष्ण

Durga Saptashati| Durga Saptashati Path in Hindi | संम्पूर्ण दुर्गा सप्तशती

Durga Saptashati:- नवरात्र के दौरान माता को प्रसन्न करने के लिए साधक विभिन्न प्रकार के पूजन करते हैं जिनसे माता प्रसन्न उन्हें अद्भुत शक्तियां प्रदान करती हैं। ऐसा माना जाता है कि यदि नवरात्र में दुर्गा सप्तशती का नियमित पाठ विधि-विधान से किया जाए तो माता बहुत प्रसन्न होती हैं। दुर्गा सप्तशती में (700) सात

Mantra for Dhan Prapti | शीघ्र धन प्राप्ति के लिए कारगार मंत्र

Mantra for Dhan Prapti || शीघ्र धन प्राप्ति के लिए ||💚 💗 💚 शीघ्र धन प्राप्ति के लिए “ॐ नमः कर घोर-रुपिणि स्वाहा”विधिः उक्त मन्त्र का जप प्रातः ११ माला देवी के किसी सिद्ध स्थान या नित्य पूजन स्थान पर करे। रात्रि में १०८ मिट्टी के दाने लेकर किसी कुएँ पर तथा सिद्ध-स्थान या नित्य-पूजन-स्थान

Vashikaran Mantra | वशीकरण मंत्र करे अपने वश में

Vashikaran Mantra || सिद्ध वशीकरण शाबर मंत्र ||💚 💗 💚 सिद्ध वशीकरण मन्त्र “बारा राखौ, बरैनी, मूँह म राखौं कालिका। चण्डी म राखौं मोहिनी, भुजा म राखौं जोहनी। आगू म राखौं सिलेमान, पाछे म राखौं जमादार। जाँघे म राखौं लोहा के झार, पिण्डरी म राखौं सोखन वीर। उल्टन काया, पुल्टन वीर, हाँक देत हनुमन्ता छुटे।

Hanuman Mantra | Hanuman Gayatri Mantra

Hanuman Mantra (श्रीविचित्र-वीर-हनुमन्-माला-मन्त्र)💚 💗 💚 प्रस्तुत ‘विचित्र-वीर-हनुमन्-माला-मन्त्र’ दिव्य प्रभाव से परिपूर्ण है। इससे सभी प्रकार की बाधा, पीड़ा, दुःख का निवारण हो जाता है। शत्रु-विजय हेतु यह अनुपम अमोघ शस्त्र है। पहले प्रतिदिन इस माला मन्त्र के ११०० पाठ १० दिनों तक कर, दशांश गुग्गुल से ‘हवन’ करके सिद्ध कर ले। फिर आवश्यकतानुसार एक बार
error: Content is protected !!